July 13, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

कौन है ऋषि सुनक, आइये जानते हैं ऋषि सुनक का जीवन परिचय !

Biography Of Rishi Sunak: ऋषि सुनक का जीवन परिचय ( ऋषि सुनक कौन है, ऋषि सुनक की जीवनी, ऋषि सुनक का निक नेम, ऋषि सुनक की माता, ऋषि सुनक के पिता, ऋषि सुनक के भैया, ऋषि सुनक की पत्नी, ऋषि सुनक के बच्चे, ऋषि सुनक की जन्म तारीख, ऋषि सुनक की उम्र, ऋषि सुनक की जाति, ऋषि सुनक की धर्म, ऋषि सुनक की नागरिकता, ऋषि सुनक की नेट वर्थ, ऋषि सुनक की परिवार, ऋषि सुनक की शिक्षा, ऋषि सुनक की राजनीतिक कैरियर, ऋषि सुनक ब्रिटेन के वित्तमंत्री) Rishi Sunak Biography hindi (caste religion wife networth, age, height, family, nick name, family, wife, date of birth, education, political career, political parties, profession)

कौन है ऋषि सुनक, आइये जानते हैं ऋषि सुनक जीवन परिचय !

ब्रिटेन की राजनीति में लगातार हलचल मची हुई है। बोरिस जॉनसन के इस्तीफे के बाद यहा की सियासत और ज्यादा गर्मा गई है। हर कोई एक ही सवाल कर रहा है अगला प्रधानमंत्री कौन होगा। वहीं एक रिपोर्ट के अनुसार, ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि, बोरिस जॉनसन के कार्यकाल में वित्त मंत्री ऋषि सुनक इस रेस में उतर सकते हैं। आपको बता दें कि, ऋषि सुनक भारतीय मूल के निवासी है। जो अब ब्रिटेन की राजनीति में सक्रिय है। लेकिन क्या आप इनके जीवन परिचय के बारे में जानते हैं। कहां के रहने वाले हैं, कौन है उनके परिवार में। इन सभी चीजों की जानकारीआज हम आपको बताएंगे। जिसको जानना आपके लिए भी जरूरी है।

ऋषि सुनक का जीवन परिचय (Rishi Sunak Biography in Hindi)

नाम (Name) ऋषि सुनक
माता पिता (Father-Mother) पिता का नाम यशवीर और माता का नाम उषा
भाई बहन (Brother-Sister) भाई का नाम संजय और बहन का नाम राखी
पत्नी (Wife) अक्षता मूर्ति
बच्चे (Children) 2
जन्म (Date of birth) बारह मई, 1980
जन्मस्थान (Birth Place) इंग्लैंड
उम्र (Age) 42
शिक्षा (Education) एमबीए
पेशा (Profession) पॉलिटीशियन, बिजनेसमैन
पार्टी (Politics Parties) कंजर्वेटिव पार्टी
नागरिकता (Nationality) ब्रिटिश
धर्म (Religion) हिंदू
जाति (Caste) ब्राह्मण
राशि वृषभ
कद (Height) 5.7”
आंखों का रंग काला
नेट वर्थ (Net worth) 3.1 बिलियन पौंड के करीब

यह भी पढ़े भारतीय अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा की बायोग्राफी, प्रियंका चोपड़ा का इतिहास !

ऋषि सुनक का जन्म और प्रारंभिक जीवन – Rishi Sunak Early Life

ऋषि सुनक का जन्म 12 मई 190 को ब्रिटेन के साउथेम्प्टन में हुआ। उनका परिवार भारतीय पंजाबी हिंदू है। उनकी मां उषा सुनक फार्मसिस्ट थी और पिता यशवीर सुनक एक जनरल चिकित्सक थे। वो अपने परिवार में तीन भाई बहनों में से सबसे बड़े थे। यशवंत सुनक जो कि ऋषि सुनक के पिता है उनका जन्म केन्या में हुआ था। वहीं उनकी मां उषा तंजानिया में जन्मी थी। हालांकि उनके दादा-दादी भारतीय थे। इसलिए वो अपने आपको भारतीय ही बताते हैं। ऋषि सुनक के भाई संजय एक मनोवैज्ञानिक हैं, साथ ही उनकी बहन राखी विदेश, राष्ट्रमंडल और विकास कार्यालय में शांति निर्मा और संयुक्त राष्ट्र के लिए काम करती हैं।

ऋषि सुनक की शिक्षा – Rishi Sunak Education

ऋषि सुनक ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा विनचेस्टर कॉलेज से की, जो की एक बोर्डंग स्कूल है। वहां वो स्कूल के हेड बॉय और संपादक रह चुके हैं। इसके बाद उन्होंने आगे की शिक्षा लिंकन कॉलेज ऑक्सफोर्ड से की। जहां उन्होंने राजनीति और अर्थशास्त्र का अध्ययन किया। उन्होंने अपनी पढ़ाई के साथ-साथ उन्होंने कंजर्वेटिव कैम्पेन मुख्यालय में इंटर्नशिप भी की। 2006 में उन्होंने स्टैनफोर्ड विश्वविधालय से एमबीए की डिग्री हासिल की।

ऋषि सुनक का बिजनेस करियर – Rishi Sunak Business Career

ऋषि सुनक ने अपनी पहली नौकरी कैलिफोर्निया में स्थित एक अमेरिका निवेश बैंक में की जिसका नाम था गोल्डमैन सैक्स। इसमें उन्होंने बतौर विश्लेषक के रूप में काम किया। साल 2004 में उन्होंने हेज फंड मैनेजमेंट फर्म द चिल्ड्रन इन्वेस्टमेंट फंड मैनेजमेंट में भी काम किया। उसके बाद साल 2009 में नौकरी छोड़ दी। अक्टूबर 2010 में लगभग 536 मिलियन डॉलर के शुरूआती निवेश से फर्म शुरू की। जिसका नाम रखा थेलेम पार्टनर्स।

फिर 2013 में उन्हें और उनकी पत्नी को उनके ससुर ने निवेश फर्म कैटामारन वेंचर्स यूके लिमिटेड का निदेशक बनाया। जिसके बाद उन्होंने 30 अप्रैल 2015 को इस पद से इस्तीफा दे दिया।

ऋषि सुनक की शादी – Rishi Sunak Wife

ऋषि सुनक की उनकी पत्नी से पहली मुलाकात स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई। जहां वो और उनकी पत्नी एमबीए की पढ़ाई कर रहे थे। आपको बता दें कि, उनकी पत्नी भारतीय अरबपति एनआर नारायण मूर्ति की बेटी हैं। साथ ही वो कटमरैन वेंचर्स के निदेशक के रूप में भी काम करती हैं। ऋषि सुनक और उनकी पत्नी नॉर्थ यॉर्कशायर के नॉर्थहेलर्टन के पास रहते हैं। जिनके साथ उनकी दो बेटियां भी रहती हैं।

यह भी पढ़े Biography: भक्ति काल के महत्वपूर्ण कवि; उत्तर प्रदेश के वाराणसी मे जन्मे, संत कबीर दास का जीवन परिचय !

ऋषि सुनक को किसका है सबसे ज्यादा शौक

ऋषि सुनक को सबसे ज्यादा फिट रहना, क्रिकेट खेलना औरफुटबॉल खेलना बेहद पंसद है। जब भी वो फ्री होते हैं तो वो यही एक्टिविटी करना पसंद करते हैं। ऐसा इसलिए ताकि वो अपने आपको और अपने दिमाग को शांत रख सके और बेहतर काम कर सके।

ऋषि सुनक की संपत्ति एवं कमाई – Rishi Sunak Net Worth

ऋषि सुनक को इंग्लैंड के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं। ऋषि सुनक ने व्यापार और राजनीति में बहुत पैसा कमाया है। अगर उनकी नेटवर्थ की बात करें तो वो अब 3.1 अरब पाउंड के करीब है। भारतीय रूपयो में इसकी बात करें तो ये करीबन 300 करोड़ के बराबर है। एक रिपोर्ट की माने तो 2009 में अक्षता मूर्ति से शादी करने के बाद उनका बिजनेस आसमान छू गया।

ऋषि सुनक ने दिवाली पर निकाला था महात्मा गांधी के नाम का सिक्का

ब्रिटेन के वित्त मंत्री के पद पर रहकर ऋषि सुनक ने भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम का सिक्का जारी किया। जिसमें भारत का राष्ट्र चिन्ह और मां सरस्वती का सिंहासन कमल अंकित किया हुआ है। ये पहली बार हुआ है कि एक ब्रिटिश देश में भारतीय सिक्के को जारी किया गया हो।

ऋषि सुनक का राजनीतिक करियर – Rishi Sunak Political Career

ऋषि सुनक साल 2014 में पहली बार ब्रिटेन की संसद में कदम रखा। दरअसल जिस समय वो संसद में पहुंचे तब उस समय पूर्व सांसद विलियम हेग ने रिचमंड को चुनाव लड़ाने से इनकार कर दिया। जिसके बाद ऋषि सुनक ने रिचमंज की जगह ली और कंजर्वेटिव एमपी उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़े।

यह भी पढ़े Biography: हिन्दी को हर दिन, एक नया रूप, एक नई पहचान देने वाले उपन्‍यास सम्राट् प्रेमचन्‍द्र जी का जीवन परिचय !

साल 2015 में ऋषि सुनक ने चुनाव लड़ा और उसमे जीत हासिल की। चुनाव जीतने के बाद उन्होंने 2015 से लेकर 2017 तक ब्रिटेन के पर्यावरण, खाघ और ग्रामीण मामलों की चयन समिति में काम किया।
इसके बाद साल 2017 में ऋषि सुनक को भारी वोट मिले। जिसके बाद वो एक बार फिर सांसद के रूप में चुने गए।
24 जुलाई 2019 में उनके बेहतरीन कार्यशैली को देखकर ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने उन्हें ट्रेजरी के मुख्य सचिव के रूप में नियुक्त किया।
2019 में वो दोबारा एमपी के रूप में चने गए और इस बार उन्हें भारी मत मिले। जिसके बाद वो तीसरी बार सांसद बने। अपनी प्रतिभा और कार्यशैली को देखकर वो आगे बढ़ते रहे। जिसके बाद 12 फरवरी 2020 को वो बोरिस जॉनसन के कैबेट में वित्त मंत्री के तौर पर नियुक्त हुए।

ऋषि सुनक का वित्त मंत्री के रूप में करियर – Rishi Sunak as UK Finance Minister

11 मार्च 2020 को उन्होंने अपना पहला बजट पेश किया था। अपने कार्यकाल के दौरान ऋषि सुनक ने कोरोना महामारी से परेशान लोगों की मदद को लेकर एक बड़ा ऐलान किया था।जिसमे उन्होंने करीबन 30 मिलियन खर्च करने का ऐलान किया। जिसके कारण कई लोगों की जान भी बचाई गई और जिनके पास खाने के लिए कुछ नहीं था। इसके बाद 17 मार्च 2020 को उन्होंने व्यवसायों के लिए आपातकालीन सहायता में 330 बिलियन और कर्मचारियों के लिए वेतन की घोषणा की। इसमें उन्हें सब्सिडी प्राप्त कराई गई। इसके कुछ दिन बाद ही उन्होंने नौकरी प्रतिधारण योजना की घोषणा की। लेकिन इसे गंभीर प्रतिक्रिया मिली। क्योंकि इसके लिए 1 लाख लोगों की अनुमति चाहिए थी जो प्राप्त नहीं हो पाई। जिसके कारण इस योजना को 30 सितंबर 2021 तक के लिए बढ़ा दिया गया।

साल 2021 के बजट में ऋषि सुनक ने वित्त वर्ष 2020-21 में घाटा बढ़कर 355 बिलियन पाउंड कर दिया। जो उस समय के पीकटाइम में सबसे ज्यादा था। उन्होंने फिर कॉरपोरेशन टैक्स को 19 से बढ़ाकर 25 प्रतिशत हो गया और टैक्स-फ्री पर्सनल अलाउंस में से पांस साल की रोक लगा दी। फिर जून 2021 में जी 7 शिखर सम्मेलन में बहुराष्ट्रीय कंपनियों और ऑनलाइन कंपनियों पर वैश्विक न्यूनतम कर स्थापित किया। अक्टूबर 2021 में ऋषि सुनक ने तीसरा बजट पेश किया। जिसमें उन्होंने स्वास्थ्य अनुसंधान और नवाचार के लिए 5 बिलियन पाउंड और कौशल शिक्षा के लिए 3 बिलियन पाउंड की राशि शामिल की गई।

ऋषि सुनक के कोषाध्यक्ष के मुख्य सचिव के रूप में – Rishi Sunak as Chief Secretary to the Treasurer

ऋषि सुनक को 24 जुलाई 2019 को प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन द्वारा चांसलर साजिद जाविद के साथ काम करते हुए ट्रेजरी के मुख्य सचिव के रूप में नियुक्त किया। उसी के अगले दिन वे प्रिवी काउंसिल के सदस्य बने। उन्हें 2019 के आम चुनाव में 47.2 प्रतिशत के बढ़े हुए बहुमत के साथ चुने गए। चुनाव अभियान के दौरान सुनक ने कंजर्वेटिव का प्रतिनिधित्व किया।

ऋषि सुनक का राजकोष के चांसलर के रूप में नियुक्ति – Rishi Sunak as Chancellor of the Exchequer

ऋषि सुनक ने राजकोष के रूप में नियुक्ति के बाद प्रेस ब्रीफिंग में पहले ही ये सुझाव दिया। सुनक ने नेतृत्व में एक नया आर्थिक मंत्रालय स्थापित किया गया है।ताकि इसके जरिए साजिद जाव के खजाने से शक्ति और राजनितिक प्रभाव को कम किया जाए। ऋषि सुनक को बोरिस जॉनसन का वफादार माना जाता है। वहीं उन्हें उभरते सितारे के रूप में भी देखा जाता है।

यह भी पढ़े Biography: हिन्दी साहित्य गगन के सूर्य; ब्रजभाषा के सर्वश्रेष्ठ कवि, सूरदास जी का जीवन परिचय !

अपने पूर्ववर्ती जाविद के इस्तीफे के बाद कैबिनेट फेरबदल के हिससे के रूप में ऋषि सुनक ने 13 फरवरी 2020 को चांसलर की गद्दी संभाली। जिसके बाद जाविद ने प्रधानमंत्री जॉनसन के साथ बैठकर राजकोष की गद्दी से इस्तीफा दे दिया। जॉनसन ने इसके बाद एक शर्त रखी जिसमें ये कहा गया कि, ट्रेजरी में अपने सभी सलाहकारों को बर्खास्त कर दिया जाए। इसके लिए जो नए व्यक्ति चुने जाएंगे। उन्हें इसके लिए नियुक्त किया जाएगा।

इस्तीफा देने के बाद जाविद ने प्रेस एसोसिएशन ने कहा कि, कोई स्वाभिमानी मंत्री उन शर्तों को स्वीकार नहीं करेगा। ये टिप्पणीयां कई बार दी गई है। जिसको राजनीति में खास ध्यान रखा गया।

ऋषि सुनक का इस्तीफा – Rishi Sunak Resign

5 जुलाई 2022 को क्रिस पिंचर सांसद के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपो के बाद उन्होंने स्वास्थ्य सचिव से इस्तीफा दे दिया। अपने त्याग पत्र में उन्होंने कहा कि, जनता ठीक ही उम्मीद करती है कि, सरकार को सही ढंग से चले। सक्षम और गंभीरता चलाना चाहिए।

उनका कहना था कि, मैं मानता हूं कि, ये मेरी आखिरी मंत्री पद की नौकरी होगी। लेकिन मेरा मानना है कि, ये लड़ाई किसी कारण की वजह से है। हर कोई चाहता है उनके देश की अर्थव्यवस्था पहले से बेहतर हो। जिसके लिए बेहतर कदम उठाने होगे।

ऋषि सुनक की अचिवमेंट – Rishi Sunak Achievements

संडे टाइम्स में रिच लिस्ट 2022 में उनका नाम लिखा गया है। जिसमें उन्हें 222 वां स्थान दिया गया है। जिससे वो अमीरों की सूची में शामिल होने वाले पहले फ्रंटलाइन राजनेता बन गए हैं।

ऋषि सुनक के विवाद – Rishi Sunak Controversy

ऋषि सुनक सिर्फ अपने इस्तीफे के कारण विवाद में आए थे। इससे पहले वो कभी विवाद में नहीं आए। बस उनकी शादी सुर्खियों में रही थी। अब प्रधानमंत्री की सीट को लेकर सुर्खियों में है। जिसके कारण लोगों की नजरें भी उन्हीं पर टिकी हुई है। आखिर क्या वो बनेंगे ब्रिटेन के पीएम।

क्या ऋषि सुनक बनेंगे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री – Will Rishi Sunak become the Prime Minister Of Britain

आपको बता दें कि, प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के कार्यकाल से खुश ना होने के कारण कैबिनेट के कई मंत्रियों ने सांसदों के पद से इस्तीफा दे दिया। धीरे-धीरे ये संख्या 50 के करीब हो गई। मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वालों में ऋषि सुनक भी मौजूद हैं। जिन्होंने वित्त मंत्री पद से इस्तीफा देकर सरकार छोड़ दी है। ऋषि सुनक ने अपने कार्यकाल में काफी बेहतर प्रदर्शन करके दिखाया था। जिसके कारण वो कंजरवेटिव पार्टी से अगले प्रधानमंत्री पद के लिए चुने गए थे। आपको बता दें कि, अगर ऋषि सुनक ब्रिटेन के पीएम बन जाते हैं तो ये एक ऐतिहासिक पल हो जाएगा। क्योंकि पहली बार कोई भारतीय ब्रिटेन का प्रधानमंत्री बनेगा और ब्रिटेन ऐसा 6वां देश होगा। जहां कोई भारतीय देश की कमान संभालेगा।

ऋषि सुनक के रोचक तथ्य – Rishi Sunak Interesting Facts

ऋषि सुनक की दो बेटियां हैं जिन दोनों की शादी हो चुकी हैं।
ऋषि सुनक 2001 से 2004 तक निवेश बैंक में काम किया करते थे। वो भी गोल्डमैन सैक्स और विश्लेषक के रूप में।
ऋषि सुनक की पत्नी अक्षता मूर्ति ब्रिटेन की सबसे अमीर महिलाओं में से एक है।
ऋषि सुनक के भाई संजय मनोवैज्ञानिक हैं। उनकी बहन विदेश, राष्ट्रमंडल और विकास कार्यालय में मानवीय, शांति निर्माण, संयुक्त राष्ट्र के फंड और कार्यक्रमों के प्रमुख के रूप में काम करती हैं।