July 14, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

Basant Panchami 2023: इस दिन भूलकर भी न करें ये काम, माता सरस्वती हो सकती हैं नाराज !

हिन्दू धर्म मे धार्मिक मान्यताओं के अनुसार बसंत पंचमी के दिन अगर विधि-विधान के साथ माता सरस्वती की पुजा अर्चना होती है तो भक्तों को ज्ञान और समृद्धि का आशीर्वाद मिलता है. तो आइये जानते हैं इस दींन ऐसा कोन सा काम न करे..

Basant Panchami 2023: इस दिन भूलकर भी न करें ये काम, माता सरस्वती हो सकती हैं नाराज !

हिंदू पंचांग के अनुसार हर साल माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि के दिन बसंत पंचमी का त्योहार मनाया जाता है. इस दिन संगीत व ज्ञान की देवी मां सरस्वती का पूजन होता है. कहते हैं कि यदि बच्चे इस दिन मां सरस्वती का पूजन करें तो उन्हें मां का आशीर्वाद प्राप्त होता है और पढ़ाई के क्षेत्र में सफलता मिलती है. इस साल बसंत पंचमी का त्योहार 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन मनाया जाएगा. इस दिन मां सरस्वती का विधि-विधान से पूजन करने से भक्तों को मनचाहे फल की प्राप्ति होगी. लेकिन ध्यान रखें कि बसंत पंचमी के दिन भूलकर भी कुछ कामों को नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं इस दिन कौनसे कार्य करने की मनाही है.

यह भी पढ़ें: Basant Panchami: आखिर क्यों पहनते हैं लोग बसंत पंचमी पर पीले रंग के कपड़े, आइये जानें !

बसंत पंचमी के दिन न करें ये काम

    • आमतौर पर सभी जानते हैं कि बसंत पंचमी के दिन पीले या हरे रंग के वस्‍त्र धारण किए जाते हैं. इसलिए इस दिन काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए. इस दिन पीले, सफेद या धानी रंग के वस्त्र पहन सकते हैं.
    • सरस्वती पूजा के दिन व्यक्ति को अपना मन शांत रखना चाहिए. किसी से वाद-विवाद में न फंसें और न ही गुस्‍सा करें. इस दिन पितृ तर्पण करने का भी विधान है. इसलिए ये ध्‍यान रखें कि इस दिन घर में भी कलह न हो. ऐसा होने से पितरों को कष्ट पहुंचता है.

यह भी पढ़ें: Lucknow news: लखनऊ के हज़रतगंज के पास गिरी इमारत, कई लोगों के फंसे होने की आशंका !

    • बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती का पूजन किया जाता है और इस दिन पेड़-पौधे काटने से बचना चाहिए. इतना ही नहीं इस दिन घर में भी पौधों की कटाई-छंटाई भूलकर भी नहीं करनी चाहिए. इससे मां सरस्वती नाराज होती हैं.
    • इस दिन सुबह स्‍नान करने के बाद पहले मां सरस्‍वती की पूजा करें. उसके बाद ही भोजन आदि ग्रहण करें. सरस्वती पूजा के दिन बिना नहाए कुछ भी नहीं खाना चाहिए.

यह भी पढ़ें: Parakram Diwas 2023: अंडमान-निकोबार के द्वीपों की पहचान, परमवीरचक्र विजेताओं के नाम से होगी, PM मोदी रखेंगे नाम !

    • बसंत पंचमी यानि सरस्वती पूजा के दिन तामसिक चीजों के सेवन से बचना चाहिए. मांसाहार और शराब का सेवन ना करें. सात्विक भोजन ग्रहण करें और खुश रहें.