July 22, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

हर साल 15 अगस्त को आजादी का दिन अर्थात स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। साल 1947 में देश को आजादी मिली उसके बाद से यह दिन हर साल जोश और उत्साह के साथ मनाया जाता हैं। सभी इस दिन इस देश को आजादी दिलाने के लिए शहीद हुए स्वतंत्रता सेनानियों और जवानों को याद करते हैं। इस साल देश आजादी का 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा हैं जो अपनेआप में एक नया जोश भरता हैं। अगर आप 75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाना चाहते हैं तो आज हम आपको देश की कुछ ऐसी जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पहुंचकर आप देशभक्ति के रंग में सरोबर हो जाएंगे।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

कारगिल युद्ध स्मारक

अगर आप कारगिल युद्ध में वीर गति प्राप्त होने वाले सैनिकों के स्मारकों को देखना चाहते हैं तो आपको इस बार कारगिल युद्ध स्मारक यानी लद्दाख ज़रूर पहुंचना चाहिए। यह वह स्थान है जहां एक बार घूमने के बाद आप खुद को भारतीय होने पर लाख गुणा गौरवान्वित महसूस करेंगे। हजार से भी अधिक की फीट पर मौजूद इस स्मारक के अंदर वीर गति प्राप्त सैनिकों का नाम स्मारक के अंदर एक बलुआ पत्थर पर लिखे गए हैं। 15 अगस्त को यहां हजारों लोग घूमने के लिए पहुंचते हैं।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

लाल किला

स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए दिल्ली के लाल किले से अच्छी जगह और क्या होगी। कहा जाता है कि जब भारत को आजादी मिली थी तो देश के पहले प्रधानमंत्री ने लाल किले से भी भाषण दिया था। दिल्ली में स्थित यह ऐतिहासिक फोर्ट हर साल कई कहानियों का साक्षी बनता है। ऐसे में अगर आप 15 अगस्त को दिल्ली में घूमने का प्लान बना रहे हैं आप यहां जा सकते हैं। इसके अलावा दिल्ली में इंडिया गेट, राज घाट और गांधी स्मृति आदि जगहों पर जा सकते हैं।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

वाघा बार्डर

वाघा बार्डर, पाकिस्तान और भारत के बीच की इकलौती सड़क सीमा है, जहां हर साल 15 अगस्त के दिन लोगों का हुजूम उमड़ता है यहां के कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए। दोनो देश इसी सीमा पर एक दूसरे को आजादी की बधाई देते हैं। देशभक्ति गीतों पर लोग नाचते गाते मौज मानते हैं। इस दिन यहां लोगों का जोश देखने लायक होगा|

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

राज घाट

यमुना नदी के किनारे स्थित राज घाट, महात्मा गांधी के यादों का स्मारक है। इसके साथ ही जवाहर लाल नेहरू, लाल बहादुर शास्त्री के स्मारक भी विजय घाट के नाम से स्थित हैं। हर साल यहां आजादी के दिन इन महान व्यक्तियों को याद कर श्रद्धांजलि दी जाती है।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

इंडिया गेट

इंडिया गेट का नाम सुनते ही अलग से रूह में देशभक्ति की भावना उमड़ पड़ती है। यहां स्थित अमर जवान ज्योति, जो भारतीय सैनिकों का मंदिर है लोगों में देश प्रेम की भावना को और बढ़ा देती है। आपको कई देशभक्ति फिल्मों में इंडिया गेट के नजारे देखने को जरूर मिलेंगे। रंग दे बसंती का वो सीन तो आप सबको याद ही होगा जब सारे दोस्त इंडिया गेट से गुज़रते हुए इंडिया गेट को सलामी देते जाते हैं।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

जलियांवाला बाग

आजादी का जश्न मनाने के लिए पंजाब के अमृतसर शहर से कई अच्छी जगह नहीं हो सकती है। जी हां, यहां आप जलियांवाला बाग घूमने के लिए जा सकते हैं। जलियांवाला बाग वो स्थान है जहां 1919 में हजारों बेगुनाह लोगों पर गोलियां चलाई गई थी। अमृतसर में आप सिर्फ जलियांवाला बाग ही नहीं बल्कि विश्व प्रसिद्ध वाघा बॉर्डर भी घूमने के लिए जा सकते हैं। इसके अलावा आप स्वर्ण मंदिर में भी घूमने के लिए जा सकते हैं।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

मुनाबाव बॉर्डर

वाघा बॉर्डर तो आप एक बार नहीं बल्कि कई बार घूमने के लिए गए होंगे, लेकिन इस बार 15 अगस्त को आपको मुनाबाव बॉर्डर ज़रूर जाना चाहिए। आपको बता दें कि यह बॉर्डर राजस्थान के बाड़मेर में है। यहां आप परेड ही देख सकते हैं। इसके अलावा यह आप पाकिस्तान के मध्य चलने वाली रेल को भी देख सकते हैं। इसके अलावा आप राजस्थान में लोंगेवाला बॉर्डर भी घूमने का जा सकते हैं।

75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न को यादगार बनाये, पहुंचे देश की इन जगहों पर !

अल्फ्रेड पार्क

अल्फ्रेड पार्क जिसे कंपनी गार्डेन के नाम से भी जाना जाता है, वही जगह है जहां चंद्रशेखर आजाद ने देश के लिए लड़ाई लड़ते हुए अपनी जान गंवाई थी। इसे चंद्र शेखर आजाद पार्क के नाम से भी जाना जाता है। इलाहाबाद का यह सबसे बड़ा पार्क है जहां चंद्रशेखर आजाद का स्मारक स्थापित है।