July 14, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

Shraddha Walkar Case: आफताब पूनावाला ने आरी से काटा श्रद्धा वाकर का शव, ऑटोप्सी का खुलासा !

Shraddha Walkar Case: आफताब पूनावाला ने आरी से काटा श्रद्धा वाकर का शव, ऑटोप्सी का खुलासा !

Shraddha Walkar Case: श्रद्धा वॉकर मर्डर केस (Shraddha Walkar Murder Case) में बड़ा खुलासा हुआ है. शव परीक्षण से पता चला है कि श्रद्धा की हड्डियों को आरी से काटा गया था. मंगलवार को दिल्ली एम्स में हुई शव परीक्षण से ये जानकारी सामने आई है.

हत्याकांड की जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने श्रद्धा वॉकर की 23 हड्डियों का पोस्टमार्टम एनालिसिस करवाया था, जिसकी रिपोर्ट आ गई है. दिल्ली पुलिस जनवरी के आखिरी सप्ताह में साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर सकती है.

यह भी पढ़ें: भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस सांसद संतोख सिंह चौधरी (Santokh Singh Chaudhary) की हार्ट अटैक से मौत !

डीएनए में हुई थी हड्डियों की पुष्टि

कथित तौर पर श्रद्धा वॉकर की हत्या उसके लिव-इन पार्टनर आफताब ने कर दी थी. हत्या के बाद आफताब ने कथित तौर पर उसके शव को टुकड़ों में काटकर फेंक दिया था. इससे पहले उसने शव के टुकड़ों को घर में फ्रिज में रखा था.

आफताब की निशानदेही पर दिल्ली पुलिस ने महरौली के जंगल और गुरुग्राम में हड्डियां बरामद की थीं. पिछले महीने एक डीएनए टेस्ट में इन हड्डियों के श्रद्धा के होने की पुष्टि हुई थी. डीएनए टेस्ट के लिए श्रद्धा के पिता के सैंपल का इस्तेमाल किया गया था. पुष्टि के बाद दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में हड्डियों का पोस्टमार्टम किया गया.

यह भी पढ़ें: Maha Shivratri 2023: आने वाली है महाशिवरात्रि, बन रहे हैं ये संयोग, ऐसे करें भोलेनाथ की पूजा !

क्या था मामला?

आरोपों के मुताबिक, आफताब पूनावाला ने 18 मई को दिल्ली स्थित महरौली में किराए के फ्लैट में झगड़े के बाद श्रद्धा वॉकर की हत्या कर दी थी. उसने श्रद्धा के शव के 35 टुकड़े कर दिए और बाद में उन्हें कई दिनों तक शहरभर में ठिकाने लगाता रहा. सूत्रों ने कहा कि कथित तौर पर शरीर को काटने के लिए आरी और ब्लेड का इस्तेमाल किया गया था.

ऐसे हुआ था खुलासा

श्रद्धा की हत्या का खुलासा तब हुआ था जब उसके पिता अक्टूबर 2020 में महाराष्ट्र पुलिस के पास शिकायत लेकर गए. श्रद्धा से कई महीने तक कोई संपर्क न होने के बाद उन्होंने पुलिस से संपर्क किया था.

यह भी पढ़ें: जानिए स्वामी विवेकानंद जी के कुछ ऐसे विचारों के बारे मे, जिनसे युवाओं को लेनी चाहिए प्रेरणा !

श्रद्धा और आफताब एक दूसरे से डेटिंग ऐप पर मिले थे. श्रद्धा के पिता को इस रिश्ते से आपत्ति थी क्योंकि आफताब दूसरे धर्म का था. कुछ दिनों तक कपल मुंबई में रहा, बाद में दोनों पिछले साल दिल्ली आ गए थे और यहां किराये के एक फ्लैट में रहने लगे थे.