July 22, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

Colombia Bomb Blast: कोलंबिया में भीषण बम धमाका, आठ पुलिसकर्मियों की मौत; कई गंभीर रूप से घायल !

Colombia Bomb Blast: कोलंबिया में भीषण बम धमाका, आठ पुलिसकर्मियों की मौत; कई गंभीर रूप से घायल !

बोगोटा, एजेंसियां: कोलंबिया मे आज तक का सबसे खतरनाक बॉम्ब ब्लास्ट हुआ है जिसमे कसी मर गए। कोलंबिया में शुक्रवार को हुए एक विस्फोट में आठ पुलिस अधिकारियों के मारे जाने की खबर है। देश के राष्ट्रपति गुस्तावो पेट्रो ने घटना पर दुख जताते हुए कहा है कि पिछले 60 सालों के दौरान सुरक्षा बलों पर यह सबसे घातक हमला है।

सरकार ने दिए जांच के आदेश
विस्फोट को लेकर किए एक ट्वीट में पेट्रो ने हमले की घोर निंदा करते हुए कहा है कि वो इस तरह की घटनाओं को बिल्कुल भी बरदाश नहीं करेंगे। विस्फोट में आठ पुलिसकर्मी मारे गए है, हम सभी उनके परिवारों के साथ खड़े हैं। उन्होंने इस आतंकी घटना को पूर्ण शांति के प्रति स्पष्ट तौर पर नकार दिया है। पेट्रो ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। वाहन में धमाका कर किया विस्फोट

घटना के लेकर पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, इस घटना के अंजाम पुलिस अधिकारियों के वाहन में धमाका कर किया गया है। हलांकि अभी तक वारदात को अंजाम देने वालों के बारे में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई है। कोलंबियाई सरकार के मुताबिक, आतंकी समूह अपने पूर्व नेतृत्व द्वारा किए गए शांति समझौते को अस्वीकार किया हैं। उन्होंने अपने संगठन में करीब 2,400 लड़ाकों को शामिल किया है। वहीं, कई विद्रोही कमांडर हाल ही में मारे गए हैं और कई वेनेजुएला में सीमा पार से लड़ रहे हैं।

संघर्ष में चार लाख से ज्यादा लोगों की मौत
एम-19 गुरिल्ला के पूर्व सदस्य राष्ट्रपति पेट्रो ने वामपंथी विद्रोहियों के साथ बातचीत को फिर से शुरू कर शांति बहाल करने का वादा किया था। प्रस्ताव पर गुरिल्ला लड़ाकों ने 2016 के शांति समझौते को अस्वीकार कर बदले में कुछ शर्तें रखी। जिसमें उन्होंने कम सजा के बदले अपराध गिरोहों के आत्मसमर्पण की बात कही। आंकड़ों के मुताबिक सरकार, वामपंथी दलों, दक्षिणपंथी अर्धसैनिकों और मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गिरोहों के बीच कोलंबिया में 1985 से 2018 के बीच करीब 4,50,000 लोग मारे गए हैं।