July 13, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

Brahmos Missile misfire: पाकिस्तान की सीमा में ब्रह्मोस दागने वाले वायुसेना के तीन अधिकारियों को रक्षा मंत्रालय ने किया बर्खास्त !

Brahmos Missile misfire: पाकिस्तान की सीमा में ब्रह्मोस दागने वाले वायुसेना के तीन अधिकारियों को रक्षा मंत्रालय ने किया बर्खास्त !

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को 9 मार्च 2022 को ब्रह्मोस मिसाइल मिसफायरिंग घटना के लिए जिम्मेदार तीन अधिकारियों की सेवाओं को समाप्त कर दिया। विवरण देते हुए, भारतीय वायु सेना ने कहा कि उनकी सेवाओं को केंद्र सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया है और समाप्ति के आदेश जारी किए गए हैं। उस घटना के मामले में कोर्ट ऑफ इंक्वायरी (Court Of Enquiry), घटना की वजह जानने के लिए और इसकी जिम्मेदारी तय करने के लिए जांच टीम बनाई थी. जिसकी जांच में पाया गया है कि ये गलती तीन अधिकारियों की वजह से हुई थी. इन तीन अधिकारियों द्वारा मानक संचालन प्रक्रियाओं (SOP) में लापरवाही के कारण ये घटना घटी थी. इस वजह से वायुसेना ने एक ग्रुप कैप्टन (Group Captain), एक विंग कमांडर (Wing Commander)और एक स्क्वाड्रन लीडर (Squadron Leader)को बर्खास्त कर दिया है.

भारतीय वायु सेना ने दी जानकारी

भारतीय वायु सेना ने जानकारी दी है कि केंद्र सरकार ने तत्काल प्रभाव से इन तीनों अधिकारियों को नौकरी से बर्खास्त कर दिया है. मंगलवार 23 अगस्त 2022 को नौकरी से बर्खास्त करने के आदेश दे दिए गए हैं. 9 मार्च 2022 को ब्रह्मोस मिसाइल मिसफायरिंग घटना के लिए मुख्य रूप से इन तीनों अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया गया है. केंद्र सरकार द्वारा उनकी सेवाओं को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया है अधिकारियों को आज, 23 अगस्त को बर्खास्तगी के आदेश दिए गए हैं.

भारत ने कहा था-गलती से गिरी मिसाइल
बता दें कि भारत की ओर से 9 मार्च को गलती से एक मिसाइल फायर हो गई थी और ये मिसाइल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में जाकर गिरी थी. तत्कालीन पीएम इमरान ख़ान ने इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उठाकर भारत को बदनाम करने की कोशिश की थी.

हरियाणा के सिरसा से यह मिसाइल पाकिस्तान के मियां चन्नू में जाकर गिरी थी. पाकिस्तान के 124 किलोमीटर अंदर आकर गिरी इस खाली मिसाइल से जान माल का नुक़सान तो नहीं हुआ. लेकिन, तत्कालीन पीएम इमरान ख़ान और कमर जावेद बाजवा को 28 से 29 सितंबर 2016 को भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक की याद आने लगी थी. पाकिस्तानी आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा ने कार्रवाई करते हुए वायुसेना के तीन आला अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया था.

क्या होती है ब्रह्मोस मिसाइल
ब्रह्मोस एक सुपसोनिक क्रूज़ मिसाइल है. इसे पनडुब्बी, जहाज़ या फिर लड़ाकू विमान से दागा जा सकता है. कम ऊंचाई पर उड़ने की वजह से ये रडार की पकड़ में नहीं आती. ब्रह्मोस की गिनती 21वीं सदी की सबसे खतरनाक मिसाइलों में होती है. ये मिसाइल 4300km प्रतिघंटा की रफ्तार से दुश्मन के ठिकाने को तबाह कर सकती है.