July 12, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

नाबालिग ने बनाया अपना न्यूड वीडियो ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान, सोशल मीडिया पर देख पेरेंट्स को आया अटैक !

नाबालिग ने बनाया अपना न्यूड वीडियो ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान, सोशल मीडिया पर देख पेरेंट्स को आया अटैक !

अहमदाबाद से एक बेहद ही चौकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 15 साल की पढ़ाई के दौरान अपने न्यूड वीडियोज बनाकर सोशल मीडिया में अपलोड करने लगी। जब पेरेंट्स ने बेटी के वीडियो देखे तो दोनों को अटैक आ गया। जिसके बाद बेटी की काउंसलिंग के लिए रिश्तेदारों ने हेल्पलाइन की मदद ली।

पेरेंट्स ने हेल्पलाइन को बताया कि उन्होंने ऑनलाइन पढ़ाई के लिए बेटी को नया मोबाइल खरीदकर दिया था। लेकिन बेटी को मोबाइल की ऐसी लत लगी कि हर समय सिर्फ मोबाइल में ही बिजी रहने लगी। माता-पिता दोनों ही नौकरीपेशा हैं। इसके चलते बेटी ज्यादातर समय घर में अकेली ही रहती थी। इसी दौरान वह न जाने किस तरह सोशल साइट्स के जरिए ऐसे लोगों के संपर्क में आ गई कि अपने ही न्यूड वीडियो बनाकर अपलोड करने लगी।

काउंसलिंग के दौरान लड़की ने बताई ये बात

काउंसलिंग के दौरान नाबालिग ने बताया कि उसने सोशल मीडिया पर कुछ लड़कियों के न्यूड वीडियो देखे थे। इनमें कई लड़कियां रोजाना अपने अश्लील वीडियो बनाकर अपलोड करती थीं और उनके वीडियो पर लड़कों के ढेरों कमेंट्स आते थे। वह लगातार उनके कमेंट्स पढ़ती थी और उन पर रिप्लाई भी करने लगी थी।

इसी दौरान लड़के उससे खुद के वीडियो बनाने की डिमांड करने लगे। इसी के चलते उसने अपना एक न्यूड वीडियो बनाकर अपलोड किया था। इस पर सैकड़ों कमेंट्स आए तो उसे अच्छा लगा और फिर वह रोजाना अपने न्यूड वीडियो बनाकर अपलोड करने लगी।

पेरेंट्स को ऐसे लगा पता

नाबालिग के कुछ वीडियो उसकी मौसी की बेटी ने इंस्टाग्राम पर देख लिए थे। इसके बाद जानकारी पेरेंट्स तक पहुंचाई गई। जब माता-पिता ने ये वीडियो देखे तो एक के बाद एक दोनों को माइनर अटैक आ गया। रिश्तेदारों ने किसी तरह स्थिति संभाली और दोनों का इलाज कराने के साथ नाबालिग की ‘181 हेल्पलाइन’ की टीम से काउंसलिंग भी करवाई।

हेल्पलाइन की टीम ने उसके सारे वीडियो डिलीट करवाए और फिर सायबर क्राइम के बारे में भी समझाया। काउंसलिंग के बाद बेटी ने पेरेंट्स से माफी मांगी और कसम खाई कि वह अब मोबाइल को नहीं हाथ लगाएगी।