July 14, 2024

Visitor Place of India

Tourist Places Of India, Religious Places, Astrology, Historical Places, Indian Festivals And Culture News In Hindi

संसद के बाहर जोरदार बहस – रवनीत बिट्टू और हरसिमरत बादल की, एक दूसरे पर बरसे किसान कानूनों को लेकर !

संसद के बाहर जोरदार बहस-रवनीत बिट्टू और हरसिमरत बादल की, एक दूसरे पर बरसे किसान कानूनों को लेकर !

बुधवार को संसद सत्र शुरू होने से पहले संसद के बाहर अकाली दल नेता और पंजाब से सांसद हरसिमरत कौर बादल संसद के बाहर किसान बिलों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे, तभी वहां पर कांग्रेस नेता और पंजाब से सांसद रवनीत बिट्टू पहुंचे और दोनों के बीच किसान कानूनों को लेकर बहस छिड़ गई।

New Delhi- किसान कानूनों के अंदर सिर्फ संसद के अंदर ही नहीं बल्कि संसद के बाहर भी जोरदार हंगामा हो रहा है, और इस बार दो ऐसे दलों के नेता ही आपस में ही संसद के बाहर भिड़ गए जो दोनों ही किसान कानूनों का विरोध कर रहे हैं। बुधवार को संसद सत्र शुरू होने से पहले संसद के बाहर अकाली दल नेता और पंजाब से सांसद हरसिमरत कौर बादल संसद के बाहर किसान बिलों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे, तभी वहां पर कांग्रेस नेता और पंजाब से सांसद रवनीत बिट्टू पहुंचे और दोनों के बीच किसान कानूनों को लेकर बहस छिड़ गई।

देखिए वीडियो

रवनीत बिट्टू ने अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग नकली हैं और इन्होंने ही कैबिनेट में बिल (किसान कानून) पास कराया है। इसपर हरसिमरत कौर ने कहा, ‘बिलकुल नहीं कराया’, तो रवनीत बिट्टू ने जवाब दिया कि ‘जब कैबिनेट में बिल पास हुआ तो आप कैबिनेट में थीं या नहीं’, तुरंत हरसिमरत कौर ने कहा ‘बिलकुल नहीं थी’, तो रवनीत बिट्टू ने कहा कि झूठ बोल रही हैं और कह रही हैं कि मैं मंत्री ही नहीं थी।

इसपर हरसिमरत कौर ने कहा कि उन्होंने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था, तो रवनीत बिट्टू ने उन्हें कहा कि ‘जब बिल पास हुआ तो ये कैबिनेट के बीच बैठी हुईं थी और उस समय इन्होंने एक बार भी कैबिनेट मंत्री होने के बावजूद बिल के खिलाफ नहीं बोला, इस्तीफा बिल पास होने के बाद दिया है।’

इसपर हरसिमरत कौर ने कहा कि उस समय राहुल गांधी और सोनिया गांधी कहां थे जब बिल संसद में पेश किया गया था, इस पार्टी ने संसद से वॉकआउट कर दिया था, इस पार्टी ने वॉकआउट करके किसान के बिल पास करने में मदद की है। इसके बाद रवनीत बिट्टू ने मीडिया से कहा कि उनसे पूछिए कि जब कैबिनेट में बिल पास हुआ था तो वे मंत्री थीं या नहीं। पत्रकारों ने जब रवनीत बिट्टू से पूछा कि किसान कानूनों पर इस तरह के टकराव से विपक्षी एकता तो नजर नहीं आ रही है तो रवनीत बिट्टू ने कहा कि इनके साथ कौन सी एकता, इन्होने बिल पास कराए हैं।